केदारनाथ में हेलीकॉप्टर सेवा पर लगी रोक

नियमों एवं शर्तों को पूरा न करने पर हेली कंपनियों पर लगाई रोक 
अपनी मनमर्जी से उडाने भर रही हैं हेली सेवाएं 
एनजीटी और नागरिक उड्डयन विभाग की शर्तों का नहीं किया जा रहा पालन 
सात हेली कंपनियों की सेवाओं पर लगी रोक

रुद्रप्रयाग। नागरिक उड्डयन विभाग की शर्तों और राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) के नियमों का पालन ना करने पर केदारनाथ में संचालित हवाई कंपनियों पर रोक लग गई है। यह रोक नागरिक उड्डयन विभाग ने लगाई है।

केदारनाथ में नौ हवाई कंपनियां सेवाएं दे रही हैं, जिनमें दो कंपनियां ही नियमों एवं शर्तों का पालन कर रही हैं, जबकि सात हेली सेवाएं नियमों को ताक पर रखकर सेवाएं दे रही हैं। ऐसे में नागरिक उड्डयन विभाग ने हवाई सेवाओं पर रोक लगाने के निर्देश दिये हैं।

दरअसल, केदारनाथ में नौ हवाई सेवाओं में सात हेली सेवाएं नियमों का पालन नहीं कर रही हैं। इन्हें नागरिक उड्डयन विभाग ने शर्तों को पूरा करने के लिए कहा था, साथ ही एनजीटी की ओर से सीमित ऊंचाई पर ही उड़ाने भरने के लिए कहा गया, मगर ये हेली सेवाएं अपनी मनमर्जी के तहत उड़ाने भरने में लगी थी।

ऐसे में नागरिक उड्डयन विभाग ने कड़ा रूख अपनाते हुए इन हेली सेवाओं पर रोक लगा दी हैं और इन्हें एक दिन का समय देते हुए नियमों एवं शर्तों को पूरा करने के निर्देश दिये गये हैं। जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने बताया कि नागरिक उड्डयन विभाग की ओर से जानकारी दी गई कि केदारघाटी में संचालित हवाई सेवाएं शर्तों एवं नियमों का पालन नहीं कर रही हैं और नागरिक उड्डयन विभाग को आज तक रिपोर्ट नहीं सौपी गई है। ऐसे में इन हेली सेवाओं की उड़ानों पर रोक लगा दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *