रुद्रप्रयाग के छह सौ परिवार रेल लाइन निर्माण से प्रभावित होंगे

प्रभावित परिवारों को मुआवजा और सरकारी नौकरी का रखा गया है प्रावधान रुद्रप्रयाग। जिले में रेल लाइन के निर्माण से छह सौ परिवार प्रभावित हो रहे हैं। रेल लाइन निर्माण से प्रभावित होने वाले परिवारों को रेल विभाग द्वारा मुआवजा और सरकारी नौकरी का प्रावधान रखा गया है। राजस्व उपनिरीक्षकों को रेल लाइन से प्रभावित परिवारों की भूमि को चयनित कर प्रभावित परिवार से मिलकर बात करने के साथ ही परिवारों के चयन में पारदर्शिता बरतने के निर्देश दिये गये हैं, जिससे भविष्य में किसी भी प्रकार की दिक्कतें न हों।

रुद्रप्रयाग के छह सौ परिवार रेल लाइन निर्माण से प्रभावित होंगे

रुद्रप्रयाग के छह सौ परिवार रेल लाइन निर्माण से प्रभावित होंगे

जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल की अध्यक्षता में जिला सभागार में रेल लाइन और आॅल वेदर रोड की बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि रेल लाइन से प्रभावित होने वाले परिवारों से मिलकर बात करें, जिससे बाद में किसी भी प्रकार की दिक्कत न हो। एनएच के अधिशासी अभियंता ने अवगत कराया कि जिले में सभी जगह सर्वे पूर्ण हो चुकी है और बाजार वाले स्थानों का सर्वे होना शेष रह गया है। जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियन्ता को निर्देश दिये कि सर्वे का कार्य शीघ्र सम्पन्न किया जाय। जिससे प्रभावित भवन एवं दुकान स्वामियों की शंका दूर हो सके। कहा कि मानको के अनुसार ही कार्य करे। जिससे किसी प्रकार विवाद न हो। बैठक में आॅल वेदर रोड से प्रभावित भवन एवं दुकान स्वामियों ने अपनी समस्याओं से जिलाधिकारी को अवगत कराया।

इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी तीर्थपाल सिंह, डीजीएम आरजी श्रीनगर वीपी बगोडा, उपजिलाधिकारी सदर मुक्ता मिश्र, उपजिलाधिकारी ऊखीमठ गोपाल सिंह चैहान, आॅल वेदर रोड संघर्ष समिति के अध्यक्ष रमेश चन्द्र बेंजबाल, विक्रम सिंह कण्डारी, बृजभूषण वशिष्ट, शत्रुघ्न सिंह नेगी, हर्षवर्द्धन बेंजवाल सहित अन्य मौजूद थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *